Skip to main content

Thane Police Zone -1 के Dcp, Acp, Sr. PI, & IO पर हो शकती है,लीगल कारवाही !

ठाणे पोलीस झोन 1 के  सभी पोलीस अधिकारी ने FIR मे नगरसेवक शैलेश पाटील का नाम दर्ज करने से अब तक लाहपरवाही दिखाई थी ! पोलीस वाले कुछ पैसे के खातीर,अपनी ड्युटी दाव पर आये दिन रोज लागते ही रहते है।आम जनता को पता ही नहीं रहता की इन लाहपरवाह पोलीस अधिकारी के खिलाफ शिकायत कहा करनी है। शिकायत करने का तरीका भी कुछ ही लोगो को पता होता है। पोलीस वालो के खिलाफ शिकायत कोंन से विभाग मे करना यह भी बडी समस्या आज आम जनता को आये दिन झेलने पढता है।
लेकीन मेरे इस लेख के माध्यम से जनता को कुछ बातो का खुलासा हमारी मीडिया के माध्यम से जनता के सामने रखना चाहता हूं। मेरे घर पर हुवे,हमले के खिलाफ आज 7 महिने से जादा दिन गुजर जाने के बाद भी कुछ उम्मीद की किरण मुझे आज दिखाई दे रही है।इन चारो पोलीस अधिकारी पर हो शकती है,लीगल कारवाही !
                1) Dcp zone 1 thane. डी.एस.स्वामी.
         2) Acp zone 1 thane. रमेश धुमाल
         3) Sr. Pi मुंब्रा चौकी -   किशोर पास
         4) IO मुंब्रा चौकी  - श्रीरसागर
आज से 7 महिना पहले नगरसेवक शैलेश पाटील ने किसी के इशारे पर मेरे घर को खाली करने के इरादे से मेरे ठाणे के घर पर हमला किया था। ठाणे झोन 1- इन सभी पोलीस के अधिकारी ने कानून के आड मे और अपनी पद पर रहते हुवे अपने पद का गलत तरीके मिस युज कर के, आज तक मेरे FIR मे नगरसेवक शैलेश पाटील का नाम दर्ज नहीं किया है। मेरे बार बार सबूत देने के बाद भी यह अधिकारी ने मेरे सबूत को ऑन रिकोर्ड नहीं लिया। ना ही आज तक मेरे शिकायत पत्र का कोई भी लिखित मे कोई ठोस जवाब दिया।
शैलेश पाटील दिवा मे 2 दुसरी बार नगरसेवक के पद पर चुना गया है। नगरसेवक शैलेश पाटील के कार्यकाल मे दिवा मे 70% अनधिकृत बिल्डिंग बनाई गई है। इसका सीदा फायदा नगरसेवक के हिस्से मे जाता है। इस अनधिकृत बिल्डिंग को बनते देखने वाले ठाणे महानगरपालिका के सभी अधिकारी और ठाणे झोन के सभी पोलीस अधिकारी इस अपराध मे कसुरवार है।अनधिकृत बांधकाम को रोकने का ड्युटी इन ही अधिकारी की नैतिक जीमेवारी थी।
मेरे शिकायत पत्र के मुताबिक इन सभी चारो पोलीस अधिकारी पर लीगल कारवाही होने की पुरी सँभावना है।
अगर आप के साथ भी कोई पोलीस अधिकारी ने आपकी शिकायत करने के बाद भी आप के शिकायत पत्र के मुताबिक लीगल कारवाही करने से टाला जा रहा है।
  • आप भी इस पते पर अपना शिकायत दर्ज करे।
  • मा. अध्यक्ष,
    राज्य पोलिस तक्रार प्राधिकरण,
    ४था मजला,कुपरेज टेलिफोन एक्सचेंज बिल्डिंग,
    महर्षि कर्वे रोड,
    नरिमन पॉईंट,
    मुंबई 400 021
    email_mahaspca@gmail.com
022-22820045

Comments

सर नमस्कार.सर मी एक सामान्य माणूस आहे.सदर सातवर्षांपासून पाहिजे आरोपी बाबत भरपूर प्रयत्न केले मात्र योग्य प्रतिसाद मिळाला नाही.एकाच माणसाच्या नावाने एक दाखल गुन्हयात स्थानिक कोर्टाची दोन पोलिस रिपोर्ट जावक नंबर आणि दोन कोर्ट केस नंबर दिसून येत असल्याने पाहिजे आरोपींना कोर्टात हजर करण्यात स्थानिक पोलिसांना अपयश येत आहे.सदर पोलिसांची बदनामी करण्याचा माझा हेतू नाही.सदर माझ्या जिवाला धोका निर्माण झाला असल्याने मला समजून घ्या.सदर हा गुन्हा उल्हासनगर ०१ नंबर पोलिस स्टेशन मध्ये काही जमावाने कोणत्या तरी अज्ञात गोष्टीचा राग घेऊन केलेल्या हल्लाची दिनांक २१/०१/२०१३ रोजीची गु रजि.(F i r) नंबर. i23/2013 या एक दाखल गुन्हयाची स्थानिक कोर्टाची दिनांक २२/०१/२०१३ आणि दिनांक २३/०१/२०१३ रोजीची पोलिस रिपोर्ट जावक नंबर दोन ४७१ आणि ४९८ या मध्ये सबळ पुरावा गोळा करणे आहे आणि पाहिजे ३ ते ४ आरोपी हे अटक आरोपींना माहिती आहे माहिती काढून शोध घेणे बाकी आहे सदर गुन्हयात दोषारोप पत्र पाठवणे असल्याने सात दिवस पोलीस कस्टडी रिमांड मिळणेस या.न्यायदंडधिकारी साहेबांकडे विनंती केली होती. सदर हा फौजदारी खटला उल्हासनगर 03 चोपडा कोर्ट केस नंबर R.c.c/1000477(४७७) सदर या गुन्हयात पाहिजे आरोपी बाबत शासनाची सरकारी वकील साहेबांची मदत मिळत नसल्याने व विलंब होत असल्याने पाहिजे आरोपी बाबत शासन मान्य आपले सरकार पोर्टल ऑनलाईन वरील कोर्ट केस नंबर ४७७ प्रमाणे तक्रार दाखल केली. तक्रार आयडी नंबर. Dist/CLTH/2018/5031. या तक्रारीत मला सूचना पत्र देण्यात आले की तुमची कोर्ट केस नंबर ४४७ चा अनुषंगाने अभिलेख तपासून पाहिले असता गु रजि (F i r) नंबर i23/2013 मधील अटक ८ आरोपींवर प्रतिबंधक कारवाई करुन पाहिजे आरोपींना गुन्हे प्रकटीकरण पोलीस अधिकारी व कर्मचारी यांना आदेश देण्यात आले आहेत. आणि पाहिजे आरोपी मिळतात न्यायालयात हजर करण्याचे तजवीज ठेवली आहे मात्र आजतागायत पाहिजे आरोपींना न्यायालयात हजर करण्यात पोलिसांना अपयश येत आहे.सदर या सर्व कागदपत्रांची पुराव्यासह प्रत घेऊन स्थानिक पत्रकार परिषद आणि मिडिया तुन आमरण उपोषणाला बसण्याची निवेदन देण्यात आले होते.आणि मा.जिल्हा पोलीस आयुक्त साहेबांकडे पाहिजे आरोपी बाबत योग्य मार्गदर्शन व योग्य प्रतिसाद मिळण्याची निवेदन देण्यात आले होते मात्र योग्य प्रतिसाद मिळाला नाही.आपणास नम्र विनंती पाहिजे आरोपींना कोर्टात हजर करण्यात मदत करावी.मदतीची अपेक्षा करत आहे.

Popular posts from this blog

पहले सेक्स की कहानी, महिलाओं की जुबानी.

क्या मर्द और क्या औरत, सभी की उत्सुकता इस बात को लेकर होती है कि पहली बार सेक्स कैसे हुआ और इसकी अनुभूति कैसी रही। ...हालांकि इस मामले में महिलाओं को लेकर उत्सुकता ज्यादा होती है क्योंकि उनके साथ 'कौमार्य' जैसी विशेषता जुड़ी होती है। दक्षिण एशिया के देशों में तो इसे बहुत अहमियत दी जाती है। इस मामले में पश्चिम के देश बहुत उदार हैं। वहां न सिर्फ पुरुष बल्कि महिलाओं के लिए भी कौमार्य अधिक मायने नहीं रखता। ये उत्तर अमेरिका की किशोरियों से लेकर दुनिया के अन्य देशों की अधेड़ उम्र तक की महिलाओं की कहानियां हैं, जो निश्चित ही अपने आप में खास हैं। आइए जानते हैं कुछ ऐसी ही चुनिंदा महिलाओं की कहानी, जो बता रही हैं अपने पहले सेक्स के अनुभव. टोरंटो की एक 32 वर्षीय महिला ने कहा कि जिसके साथ उसने पहली बार यौन संबंध बनाए या यूं कहें की उसने अपना कौमार्य खोया वह एक शादीशुदा आदमी था और उससे उम्र में तीन वर्ष अधिक बड़ा भी था। इसके बाद तो मुझे ऐसे अनुभव से घृणा हो गई।   महिला ने कहा- मैं चाहती थी कि एक बार यह भी करके देख लिया जाए और जब तक मैंने सेक्स नहीं किया था तब तो सब कुछ ठीक थ

Torrent Power Thane Diva Helpline & Customer Care 24x7 No : 02522677099 / 02522286099 !!

Torrent Power Thane Diva Helpline & Customer Care 24x7 No : 02522677099 / 02522286099 बिजली के समस्या के लिये आप Customer Care 24x7 No : 02522677099 / 02522286099 पर अपनी बिजली से सबंधित शिकायत कर सकते है। या Torrent Power ऑफिस जाकर भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। या उनके ईमेल id पर भी शिकायत कर सकते हो। To,                            Ass.Manager Torrent Power Ltd चद्ररगन रेसिटेंसी,नियर कल्पतरु जेवर्ल्स,शॉप नंबर-234, दिवा ईस्ट । consumerforum@torrentpower.com connect.ahd@torrentpower.com

#महाराष्ट्र के मा.मुख्यमंत्री #एकनाथ शिंदे जी,मेरा बेटे #कृष्णा चव्हाण #कर्नाटक से #ठाणे रेलवे पर स्टेशन आते वक़्त लोकल रेल्वे से उसका एक्सीडेंट में मौत होकर 3 साल गुजर जाने पर भी आज तक इस ग़रीब माता पिता को इंसाफ नही मिला हैं !!

#महाराष्ट्र के मा.मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे जी,मेरा बेटे कृष्णा चव्हाण #कर्नाटक से ठाणे रेलवे स्टेशन पर आते वक़्त लोकल रेल्वे से उसका एक्सीडेंट में मौत होकर 3 साल गुजर जाने पर भी आज तक इस ग़रीब माता पिता को इंसाफ नही मिला हैं !! आज तक किसी भी रेलवे के तरफ़ से कोई अधिकारी मेरे बेटे के ट्रेन एक्सीडेंट लेकर या कोर्ट केस से संबधित कोई भी इनफार्मेशन मुझे नही दी हैं. मेरे बेटे के मौत को लेकर कोई भी रेलवे डिपार्टमेंट से कानूनी लीगल मदत आज तक नही मिली हैं. #कृष्णा पुनिया चव्हाण को इंसाफ दिलाने के लिए जनता इस न्यूज़ पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और साथ हीं कमेट्स बॉक्स में अपनी राय रखे !!